भारत में वामपंथी आन्दोलन

भारत में वामपंथी विचारधारा का उदय प्रथम विश्वयुद्ध के पश्चात् राजनैतिक एवं आर्थिक परिस्थितियों के कारण हुआ। समाजवादी एवं वामपंथी विचारों का उद्भव एवं विकास- 1917 ई. में रूस की …

Read More