परमार वंश

मालवा परमार वंश: प्रमुख राजा, उनकी उपलब्धियां और शासन व्यवस्था

मालवा परमार संस्थापक – उपेन्द्र अथवा कृष्णराज प्रारम्भिक राजधानी- उज्जैन, कालान्तर में धारा (मध्यप्रदेश में) प्रथम स्वतंत्र शासक सीयक अथवा श्रीहर्ष। इसने अपने वंश को राष्ट्रकूटों की अधीनता से मुक्त कराया। वाकपति मुंज चालुक्य राजा तैलप द्वितीय को मुंज ने 6 बार हराया। 7वीं बार युद्ध में बन्दी बनाकर उसकी हत्या कर दी। श्रीवल्लभ, पृथ्वीवल्लभ, …

मालवा परमार वंश: प्रमुख राजा, उनकी उपलब्धियां और शासन व्यवस्था Read More »

चन्देल वंश: प्रमुख शासक और उनकी उपलब्धियां

जेजाक भुक्ति के चन्देल जेजाक भुक्ति वर्तमान बुन्देलखण्ड है। राजधानी खजुराहो। चन्देल प्रतिहारों के सामन्त थे। प्रथम शासक नुन्नुक था। पौत्र जयसिंह या जेजा के नाम पर जेजाकभुक्ति रखा। यशोवर्मन 925-50 ई. इसके काल में चन्देल शक्ति अपने चरमोत्कर्ष पर थी। गौड, खस, कोशल, कश्मीर, मालव, चेदि कुरु गुर्जर आदि का विजेता माना। खजुराहो में …

चन्देल वंश: प्रमुख शासक और उनकी उपलब्धियां Read More »