कालिदास की प्रमुख काव्य कृतियां

शैव मतावलम्बी कालिदास गुप्त सम्राट चंद्रगुप्त II के दरबारी कवि थे। कालिदास द्वारा रचित सात पद्य और नाट्य ग्रंथों की प्रामाणिकता सिद्ध होती है। महाकाव्य रघुवंश: यह 19 सर्गों में विभक्त महाकाव्य है, जिसमें राजा दिलीप से लेकर अग्निवर्ण तक चालीस इक्ष्वाकु वंश के राजाओं का चरित्र चित्रण है। कुमारसम्भव Read more…

‘भारत का शेक्सपीयर’ कहा जाता है?

गुप्त वंश का संस्थापक कौन था? — श्रीगुप्त (275 से 300 ई.) श्रीगुप्त ने कौनसी उपाधि धारण की थी? — महाराज की उपाधि गुप्तों की प्रारम्भिक राजधानी थी? — अयोध्या गुप्त वंश किनके सामंत थे? — कुषाणों के वह गुप्त शासक जिसने सर्वप्रथम ‘महाराजाधिराज’ की उपाधि धारण की थी? — Read more…