संविधान के किस अनुच्छेद में ग्राम पंचायतों का गठन किया जाता है?

हमारे संविधान के किस भाग में तीन सोपानों में पंचायतें बनाने की परिकल्पना की गई है?
अ. भाग IX             ब. भाग X
स. भाग XI           द. भाग XII
उत्तर- अ
व्याख्या- संविधान के 73वें संशोधन अधिनियम, 1992 द्वारा 24 अप्रैल, 1993 से अंतःस्थापित संविधान के भाग प्ग् में तीन सोपानों में पंचायतें बनाने की परिकल्पना की गई है। इस भाग के अनुच्छेद 243 ख के खंड (1) में कहा गया है कि प्रत्येक राज्य में ग्राम, मध्यवर्ती और जिला स्तर पर इस भाग के उपबंधों के अनुसार पंचायतों का गठन किया जाएगा तथापित इसी अनुच्छेद के खंड (2) के अनुसार मध्यवर्ती स्तर पर पंचायत का उस राज्य में गठन नहीं किया जा सकेगा जिसकी जनसंख्या बीस लाख से अनधिक है।

जिस समिति ने लोकतांत्रिक विकेंद्रीकरण और पंचायत राज की सिफारिश की उसका सभापति कौन था?
अ. के एम पन्निकर            ब. एच एन कुंजरु
स. महात्मा गांधी               द. बलवंत राय मेहता
उत्तर- द
व्याख्या- बलवंत राय मेहता समिति, 1957 ने लोकतांत्रिक विकेंद्रीकरण और त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था की स्थापना की सिफारिश की थी।

पंचायत समिति के सदस्य-
अ. खंड विकास अधिकारी द्वारा मनोनीत किए जाते हैं।
ब. जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा मनोनीत किए जाते हैं।
स. प्रत्यक्ष रूप से जनता द्वारा निर्वाचित किए जाते हैं।
द. ग्राम पंचायत के सदस्यों द्वारा अप्रत्यक्ष रूप से निर्वाचित किए जाते हैं।
उत्तर- स

व्याख्या- पंचायत समिति त्रिस्तरीय पंचायती राज प्रणाली का मध्यवर्ती स्तर है जिसके सदस्य प्रत्यक्ष रूप से जनता द्वारा निर्वाचित किए जाते हैं। उत्तर प्रदेश में पंचायत समिति को क्षेत्र पंचायत कहा जाता है।

संविधान के किस अनुच्छेद में ग्राम पंचायतों का गठन किया जाता है?
— अनुच्छेद 40

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *