रणजीत सिंह का वित्त मंत्री कौन था?

महाराजा रणजीत सिंह के साथ ‘अमृतसर की संधि’ के समय भारत का गवर्नर जनरल कौन था?

अ. लॉर्ड कार्नवालिस

ब. लॉर्ड डलहौजी

स. लॉर्ड हेस्टिंग्स

द. लॉर्ड मिंटो प्रथम

[showhide type=”a” more_text=”Show Answer” less_text= “Hide Answer”]उत्तर— द[/showhide]                     

पंजाब के सिख राज्य को किस वर्ष में अंग्रेजी ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा अपने अधिकार में ले लिया?

अ. 1836 ई. में

ब. 1839 ई. में

स. 1849 ई. में

द. 1852 ई. में

[showhide type=”b” more_text=”Show Answer” less_text= “Hide Answer”]उत्तर— स

व्याख्या:

द्वितीय आंग्ल सिख युद्ध, 1849 ई. में सिखों के पराजित होने पर 29 मार्च, 1849 ई. की घोषणा द्वारा पंजाब का विलय कर लिया गया। इस समय लॉर्ड डलहौजी गवर्नर जनरल थे।

महाराजा दलीप सिंह को पेंशन दे दी गई और अंग्रेजों ने शासन संभाल लिया।

डलहौजी के पास इस विलय का कोई वैधानिक और नैतिक अधिकार नहीं था।

इवैन्ज वैल ने इसे ‘संगीन विश्वासघात’ बताया है।

भेरोवाल की संधि के अनुसार अंग्रेज रेजीडेन्ट महाराजा दलीप सिंह के राज्य का संरक्षक था और यदि कोई विद्रोह हुआ तो उसका उत्तरदायित्व अंग्रेजों का था, महाराजा का नहीं।[/showhide]

रणजीत सिंह का वित्तमंत्री कौन था?

अ. गुलाब सिंह

ब. दीनानाथ

स. हरे सिंह नलवा

द. सावन मल

[showhide type=”c” more_text=”Show Answer” less_text= “Hide Answer”]उत्तर— ब

रणजीत सिहं का वित्तमंत्री दीनानाथ था। फकीर अजीजुद्दीन उनका विदेश मंत्री था।

रणजीत सिंह की विशेष आदर्श सेना को ‘फौज—ए—खास’ कहते थे, जिसका गठन 1822 में जनरल वन्तुरा तथा आलार्ड द्वारा किया गया था।

इलाही बख्श उनके तोपखाने का कार्यवाह था।[/showhide]

द्वितीय सिख युद्ध, 1848—49 में निर्णायक युद्ध इस स्थान पर हुआ था?

अ. चिलियांवाला

ब. पेशावर

स. गुजरात

द. मुलतान

[showhide type=”d” more_text=”Show Answer” less_text= “Hide Answer”]उत्तर— स[/showhide]

‘आज रणजीत सिंह की मृत्यु हो गई’ एक सिख सैनिक द्वारा यह कथन किस अवसर पर कहा गया?

अ. 1809 की अमृतसर संधि

ब. 1846 का सोबरांव युद्ध

स. 1846 की लाहौर संधि

द. 1849 का गुजरात का युद्ध

[showhide type=”e” more_text=”Show Answer” less_text= “Hide Answer”]उत्तर — अ[/showhide]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *