पृथ्वी की किस परत में बेसाल्ट चट्टानें पाई जाती है?

सियाल परत के संघटक तत्व हैं –
अ. सिलिका-मैग्नीशियम
ब. सोडियम-एल्यूमीनियम
स. सिलिका-एल्यूमीनियम
द. सिलिका-लोहा

पृथ्वी की आंतरिक परत निफे के निर्माण में किन तत्वों की प्रधानता है?
अ. सिलिका व ऐल्युमिनियम
ब. सिलिका व मैग्नीशियम
स. बेसाल्ट व सिलिका
द. निकिल व लोहा

सम्पूर्ण पृथ्वी का घनत्व है?
अ. 2.5
ब. 3.5
स. 5.5
द. 11

पृथ्वी की किस परत में बेसाल्ट चट्टानें पाई जाती है?
अ. सियाल
ब. सीमा
स. निफे
द. उपरोक्त में से कोई नहीं

भूक्रोड का घनत्व है?
अ. 5 से 7
ब. 8 से 11
स. 11 से 17
द. 17 से अधिक

प्राथमिक लहरें ध्वनि की लहरों के समान होती है।

वान डर ग्राक्ट के अनुसार सबसे ऊपर की परत की अधिकतम गहराई है –
अ. 1200 किमी.
ब. 60 किमी.
स. 2900 किमी.
द. 200 किमी.

स्वैस के वर्गीकरण के परिप्रेक्ष्य में जो कथन गलत है, वह है-
अ. ऊपरी परत का घनत्व 2.7 है।
ब. सीमा का घनत्व 4.7 से कम है।
स. निफे में चुम्बकीय गुण पाया जाता है।
द. सियाल निफे पर तैर रहा है।

सियाल, सीमा व निफे के रूप में भू-गर्भ का विभाजन किया गया था।
अ. वान डर ग्रांट द्वारा
ब. डेली द्वार
स. होम्स द्वारा
द. स्वैस द्वारा

निम्नलिखित में से कौन भूगर्भ की जानकारी का प्रत्यक्ष साधन है?
अ. भूकम्पीय तरंगे
ब. गुरुत्वाकर्षण बल
स. ज्वालामुखी
द. पृथ्वी का चुम्बकत्व

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *