पुनर्जागरण कालीन चित्रकला

चित्रकला – पुनर्जागरण काल में सबसे अधिक विकास चित्रकला के क्षेत्र में हुआ। जियटो चित्रकला का जन्मदाता 14वीं शताब्दी, परम्परागत बाइजेन्टाइन शैली से हटकर मानव व प्रकृति पर चित्र बनाये। …

Read More

भारत के प्रमुख राष्ट्रीय प्रतीक

किसी भी देश के लिए राष्ट्रीय चिह्न और प्रतीकों का बड़ा ही महत्त्व होता है। ये प्रतीक हमें एकजुट करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। भारत के राष्ट्रीय प्रतीक हमें …

Read More

सौरमंडल

सूर्य, चंद्रमा खगोलीय पिंड कहलाते हैं। कुछ खगोलीय पिंड बड़े आकार वाले तथा गर्म होते हैं। ये गैसों से बने होते हैं। इनके पास अपनी ऊष्मा तथा प्रकाश होता है, …

Read More

धर्म सुधार आन्दोलन

इतिहासकार हेज के अनुसार, ‘‘कैथोलिक चर्च में सुधार के प्रयास के परिणामस्वरूप जो धार्मिक आन्दोलन हुआ एवं जो नये धार्मिक सम्प्रदाय बने, उन्हें समष्टिगत रूप से धर्म सुधार आन्दोलन कहा …

Read More

भारत पर विदेशी आक्रमण

सीरिया के महान राज एन्टीयोकस ने 206 ई.पू. के आसपास हिन्दूकुश को पर कर काबुल की घाटी में राज्य करने वाले एक भारतीय राजा सुभगसेन को हराया और उससे अपरिमित …

Read More

कांग्रेस की स्थापना के बारे में अपने विचार लिखिए?

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का जन्म भारत के राजनीतिक इतिहास की एक महत्त्वपूर्ण घटना है। इसके लिए कई तत्त्वों ने योगदान दिया, जैसे विश्वविद्यालयों की स्थापना, अंग्रेजी के सामान्य भाषा के …

Read More

मई समसामयिक

लांसेट द्वारा जारी सर्वेक्षण रिपोर्ट के अनुसार- भारत स्वास्थ्य सेवाओं के संबंध में 145 नंबर पर है। कुल 195 देशों पर सर्वेक्षण। भारत इस सर्वेक्षण में चीन, बांग्लादेश, श्रीलंका एवं …

Read More

अमीर खुसरो

जन्मः 1253 ई. में, पटियाली गांव (एटा, उत्तर प्रदेश) में इन्होंने फारसी की एक नई शैली की शुरुआत की, जिसे सबक-ए-हिन्दी कहा जाता था। ये सल्तनत काल के सर्वश्रेष्ठ संगीतज्ञ …

Read More

भारत में धन-निष्कासन के परिणाम

महादेव गोविन्द रानाडे के अनुसार ‘‘राष्ट्रीय पूंजी का एक-तिहाई हिस्सा किसी-न-किसी रूप में ब्रिटिश शासन द्वारा भारत के बाहर ले जाया जाता है।’ भारत पर ब्रिटेन के आर्थिक नियन्त्रण का …

Read More

राजस्थान के प्रमुख लोक नृत्य

  क्षेत्रीय लोकनृत्य क्षेत्रीय स्तर पर विकसित होने वाले लोकनृत्यों में मेवाड़ क्षेत्र का गैर नृत्य, शेखावाटी का गींदड एवं चंग नृत्य, मारवाड़ का डांडिया नृत्य, जालौर का ढ़ोल नृत्य, …

Read More