संचार उपग्रह GSAT-30 का सफल प्रक्षेपण

जीसैट-30
  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने संचार उपग्रह जीसैट-30 का 17 जनवरी को सफलतापूर्वक यूरोपियन हैवी रॉकेट एरियन-5 VA251 से लॉन्च किया। इसे फ्रेंच गुयाना स्थित कौरु द्वीप से प्रक्षेपित किया गया। यह एक संचार उपग्रह है। यह इनसैट-4ए सैटेलाइट का स्थान लेगा, जिसकी समय सीमा पूरी हो रही है।  
  • जीसैट-30 के लॉन्च के बाद देश में संचार व्यवस्था और मजबूत होगी। इससे देश में इंटरनेट टेक्नोलॉजी को स्पीड हासिल करने में मदद मिलेगी। साथ ही पूरे देश में मोबाइल नेटवर्क फैल जाएगा, जहां अभी तक मोबाइल सेवा नहीं है। माना जा रहा है कि इसकी मदद से 5जी इंटरनेट सेवा की देश में शुरुआत की जा सकती है।
  • जीसैट-30 की मदद से देश की संचार प्रणाली, टेलीविजन प्रसारण, सैटेलाइट के जरिए समाचार प्रबंधन, समाज के लिए काम आने वाली जियोस्पेशियल सुविधाओं, मौसम संबंधी जानकारी और भविष्यवाणी, आपदाओं की पूर्व सूचना और खोजबीन और रेस्क्यू ऑपरेशन में इजाफा होगा।

Leave a Reply